सोमवार, नवम्बर 29

भागलपुर डीएम का सराहनीय कदम, प्राइवेट नर्सिंग होम और क्लीनिकों के लिए फरमान जारी, घटेगी परेशानी

भागलपुर के डीएम ने डॉक्टरों को नर्सिंग होम और क्लीनिक खोलकर गंभीर मरीजों की इलाज करने का निर्देश दिया है। कहा गया है कि डॉक्टर वैसे मरीज जिन्हें चिकित्सीय सलाह या इलाज की सख्त जरूरत है। उसका भी उपचार करें।

 

डीएम द्वारा जारी निर्देश में कहा गया है राष्ट्रीय स्तर पर घोषित लॉकडाउन के दौरान निजी अस्पतालों, क्लीनिक और नर्सिंग होम में भीड़ जमा नहीं करने और ओपीडी सेवा स्थगित करने का निर्देश दिया गया था। लेकिन देखा जा रहा है कि अधिकतर क्लीनिक और नर्सिंग होम को पूर्णत: बंद कर दिया गया है। इससे मरीजों को इलाज कराने में काफी परेशानी हो रही है।

 

डीएम ने इलाज के दौरान सोशल डिस्टेंस बनाये रखने और सेनिटाइजेशन की व्यवस्था करने का निर्देश दिया है। देखा जा रहा है कि निजी अस्पतालों के बंद होने से मरीजों को इलाज करने में काफी परेशानी हो रही है। इसके चलते सरकारी अस्पतालों में भी दबाव बढ़ गया है। सरकारी अस्पतालों में कोरोना वायरस से संबंधत मरीजों के लिए भी अलग से तैयारी चल रही है। इसको देखते हुए डीएम ने डॉक्टरों को निर्देश जारी किया है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *