सोमवार, नवम्बर 29

भागलपुर को जाम से मुक्ति दिलाने के लिए नए डीआईजी का निर्देश जा’री साथ में इनका धड़ पकड़ का आ’देश

अब आधे घंटे से अधिक कोई रास्ता या सड़क जाम रहता है तो एसएचओ या उनके ऊपर के पुलिस अफसर खुद मौके पर जाएंगे और जाम हटाने की दिशा में पहल करेंगे। सोमवार को डीआईजी सुजीत कुमार ने भागलपुर, बांका, नवगछिया के एसडीपीओ के साथ बैठक में उक्त निर्देश दिया। डीआईजी ने कहा कि आधे घंटे से अधिक समय तक जाम रहने पर एसडीपीओ पेट्रोलिंग पार्टी या ट्रैफिक सिपाही के भरोसे नहीं रहेंगे।

वे खुद जाम स्थल पर जाएंगे और ट्रैफिक को सुगम बनाने की दिशा में का’र्रवाई करेंगे। रेंज के तीनों जिले में जाम बड़ी स’मस्या है और इसे कम करने की दिशा में पुलिस उपलब्ध संसाधनों में ही काम करेगी। डीआईजी ने बताया कि शहर में बेतरतीब ढंग से गाड़ियों के परिचालन से अक्सर जा’म लगता है। बैठक में सिटी एसपी सुशांत कुमार सरोज, सिटी डीएसपी राजवंश सिंह, कहलगांव एसडीपीओ डॉ. रेशु कृष्णा, नवगछिया एसडीपीओ प्रवेंद्र भारती आदि मौजूद थे।

बैठक में डीआईजी ने ह’त्या, ड’कैती, लू’ट, ब’लात्का’र, न’क्सल, सं’पत्तिमूलक केस आदि केसों की समीक्षा की। छह माह के दौरान कितने के’स दर्ज हुए, उन केसों में क्या प्रगति है, इसकी जानकारी ली। अगर केस पेंडिंग है, उसकी क्या वजह है। एसडीपीओ के पास कितने केस सुपरविजन के लिए लंबित हैं, यह भी पूछा। न’क्सल संबंधी केसों के त्वरित अनुसंधान का निर्देश दिया। डीआईजी ने फरार अप’राधियों की धर-पकड़ के लिए अभियान चलाने का नि’र्देश दिया। खासकर संपत्ति संबंधी अ’पराध से जुड़े केसों में सूची बनाने काे कहा। एसडीपीओ के साथ बैठक करते डीआईजी सुजीत कुमार।

1 Comment

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *