बुधवार, दिसम्बर 8

बड़ा फैसला पुरे झारखण्ड में स्कूल, मॉल, पार्क, म्यूजियम की बंद अवधी बढ़ी अब इस तारीख को खुलेंगे

झारखंड में सभी स्‍कूल-कॉलेज, मॉल-मल्‍टीप्‍लेक्‍स, छात्रावास, पार्क, म्‍यूजियम 14 अप्रैल तक बं’द कर दिए गए हैं। कोरोना वा’यरस पर सोमवार को झारखंड सरकार ने अहम फै’सला लिया। मुख्‍यमंत्री हेमंत सोरेन ने विधानसभा पर कोरोना वा’यरस को लेकर कई ज’रूरी घो’षणाएं कीं। बताया गया कि कोराना सं’क्रमि’त मरीजों के लिए सभी मेडिकल कॉलेज और जिला अस्पताल में आइसोलेशन सेंटर होंगे। पब्लिक सेक्टर हॉस्पिटल में भी वार्ड होंगे।

जिला मुख्‍यालय में सभी उपायुक्‍तों को मरीजों की जां’च का आ’देश दिया गया है। किसी भी सामान्‍य व्‍यक्ति या सं’दि’ग्‍ध सं’क्रमि’त मरीज द्वारा जांच से इ’नकार करने पर कानूनी कार्र’वाई होगी। इसके तहत सं’दि’ग्ध लोगों की जां’च कराने का आ’देश दिया जा सकता है। इन’कार करने पर कानूनी का’र्रवाई का प्रावधान होगा। सरकार ने सभी उपायुक्तों को एपिडेमिक डिजीज एक्ट के प्राव’धानों का इस्तेमाल करने का नि’र्देश दिया है।

सीएम हेमंत सोरेन ने बताया कि सभी स्कूल और कॉलेज 14 अप्रैल तक बं’द कर दिए गए हैं। सिनेमा हॉल , मॉल, पार्क, म्यूजियम भी बं’द रहेंगे। सभी छात्रावासों को भी बं’द किया गया है। हालांकि गरीब छात्रों को हॉस्टल में रहने की अनुमति होगी। इसके साथ ही सरकार ने विधानसभा में दर्शकों के आने पर पा’बंदी लगा दी है। बताया गया कि कोराेना वा’यरस के फैलाव के बाद से अब तक 488 लोग झारखंड में विदेशों से लौटे हैं।

इनमें 175 में कोरोना के लक्षण नहीं मिले। बस यात्री को टिकट देने के बाद उनका नंबर रखना अ’निवार्य होगा। संस्‍थानों के लिए जरूरी नि’र्देश जा’री करते हुए सीएम ने कहा कि प्राइवेट कर्मियों के वेतन पर इसका असर न हो। संस्थान बं’द हों तब भी कर्मियों को वेतन देना होगा। 15 दिनों बाद फिर से इस एह’तिया’ती कदम की समीक्षा की जाएगी। सीएम ने कहा कि धार्मिक स्थलों पर विधायकों से उनका विचार पूछा है। आम लोग ऐसे कार्यक्रमों में जाने से बचें। मुख्यमंत्री के प्रस्ताव पर पूरे सदन ने अपनी सहमति दी है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *