शुक्रवार, दिसम्बर 3

बिहार सरकार अब ऐसे लोगो को भी देगी 1 हजार रुपए की आर्थिक मदद, 21 लाख से अधिक आवेदन प्राप्त

बाहर फंसे हुए बिहार के छात्रों को भी राज्य सरकार एक-एक हजार रुपए की आर्थिक मदद देगी। बाहर पढ़ने वाले छात्रों की सहायता के लिए खोले गए हेल्पलाइन नंबर पर 1038 छात्रों में संपर्क किया है। इनमें से 90 प्रतिशत छात्रों ने बिहार लौटने की इच्छा जतायी है। वहीं 5 प्रतिशत छात्रों ने पैसे की कमी और 5 प्रतिशत ने खाना नहीं मिलने की शिकायत की है।


आपदा प्रबंधन विभाग के अपर सचिव रामचंद्र डु ने सोमवार को यह जानकारी दी। अपर सचिव ने कहा कि छात्रों को भी एक-एक हजार रुपए की सहायता दी जाएगी। पैसे की कमी की समस्या बताने वाले छात्रों को आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा तैयार किए गए मोबाइल एप की जानकारी देकर इस पर ब्योरा दर्ज करने के लिए कहा गया है। छात्रों को वापस लाने के सवाल पर अपर सचिव ने कहा कि लॉकडाउन खुलने तक ऐसा कर पाना संभव नहीं है।

इधर, दूसरे प्रदेशों में फंसे हुए 25 लाख 19 हजार प्रवासियों ने मुख्यमंत्री विशेष सहायता योजना से एक-एक हजार रुपए लेने के लिए आवेदन दिया है। इनमें से 21.83 लाख आवेदनों की जांच कर ली गई है। बिहार में छात्रों के लिए खोले गए हेल्पलाइन नंबर पर सबसे अधिक 357 फोन राजस्थान से आए हैं। दिल्ली से 107, उत्तर प्रदेश से 60, मध्य प्रदेश से 40, पंजाब से 30, पश्चिम बंगाल से 25, कर्नाटक से 23, हरियाणा से 24 और झारखंड से 18 छात्रों ने फोन कर अपनी समस्या रखी। अन्य प्रदेशों से भी 543 फोन कॉल रिकॉर्ड किए गए हैं।