‘यास तूफान’ का खतरा मंडराने लगा है। मौसम विभाग के मुताबिक, यह तूफान 26 मई को बंगाल और ओडिशा के तट से टकरा सकता है। इससे निपटने के लिए प्रधानमंत्री मोदी ने समीक्षा बैठक भी की है। ताजा जानकारी के मुताबिक, यह तूफान दबाव वाले क्षेत्र के उत्तर-उत्तर पश्चिम की ओर बढ़ने लगा है और अगले 24 घंटों के दौरान बहुत गंभीर चक्रवात में बदल सकता है। ऐसे में इस गंभीर तूफान का प्रभाव उत्तर भारत के ज्यादा राज्यों में पड़ सकता है, जिसके चलते बिहार, दिल्ली, यूपी, राजस्थान सहित अधितकर राज्यों में एक बार फिर से मौसम बदलेगा।इस तूफान को देखते हुए आंध्र प्रदेश, पश्चिम बंगाल, ओडिशा, तमिलनाडु और अंडमान निकोबार में हाईअलर्ट है।

 

 

यूपी के कई इलाकों में बारिश का अलर्ट( UP Weather Alert)

यूपी में भी यास तूफान देखने को मिल सकता है। यहां पर भी बीते कई दिनों से मौसम में बदलाव देखने को मिल रहा है। लगातार यहां के मौसम में बदलाव आ रहा है। कई स्थानों पर बारिश का अलर्ट भी जारी किया गया है। 27 मई से तीन दिन लगातार बरेली में बारिश हो सकती है। मौसम विभाग ने अपने पूर्वानुमान में यह जानकारी दी है।

 

बिहार में भी दिखेगा यास तूफान का प्रभाव, बारिश का अलर्ट

उधर, बिहार भी टाक्टे के बाद यास की चपेट में आ सकता है। यानी यहां पर भी यास तूफान का असर देखने मिल सकता है। यह वजह है कि यहां पर 25-26 को भारी बारिश के आसार जताए जा रहे हैं। बंगाल की खाड़ी में बना कम दबाव का क्षेत्र आज यानी सोमवार को यास तूफान में तब्दील हो जाएगा। आज ही शाम तक यास का खतरनाक प्रभाव दिखेगा। यास तूफान के कारण देश के मैदानी इलाकों सहित बिहार में भी जमकर बारिश के आसार हैं।

 

 

जानें झारखंड का मौसम: इस तूफान के प्रभाव से झारखंड भी अछूता नहीं रहेगा। आज से धनबाद और पड़ोसी जिलों में तूफान यास का असर शुरू हो जाएगा। मौसम विभाग रांची ने इसकी चेतावनी दी है।

 

 

हरियाणा में कल के बाद साफ होने लगेगा मौसम: 25 मई के बाद से हरियाणा में मौसम साफ हो जाएगा और तापमान में लगातार बढ़ोतरी होगी। ऐसे में तापमान 40 डिग्री सेल्सियस तक जा सकता है। वहीं लू चलने की संभावना है। वैसे मई व जून महीना लू भरा होता है, लेकिन इस बार बार गर्मी कम पड़ सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.