बुधवार, दिसम्बर 8

बिहार में बड़ा सड़क हा’दशा, मुख्यमंत्री द्वारा 4, 4 लाख मुआवजे का ऐलान, मृ’तकों की सूची जारी

बिहार में मंगलवार की सुबह बड़ा हा’दसा हुआ है। प्रवासी श्रमिकों को दरभंगा से बांका ले जा रही एक बस पाइप लदे ट्रक से टकरा गई। आमने-समाने की इस टक्‍कर में ट्रक सड़क किनारे खाई में गिर गया। बताया जा रहा है कि ट्रक में भी एक दर्जन से अधिक प्रवासी श्रमिक सवार थे, जो मलबे के नीचे दब गए। दुर्घ’टना में नौ श्रमिकों की मौ’त हो गई। जबकि, चार घायलों की स्थिति गंभीर बनी हुई है। दुर्घ’टना में बस को मामूली क्षति हुई। बस में सवार श्रमिकों में भी चार मामूली रूप से घायल हो गए हैं।

बस व ट्रक में आमने-सामने की टक्‍कर

मिली जानकारी के अनुसार प्रवासी श्रमिकों को दरभंगा से बांका ले जा रही बस एक ट्रक से आमने-सामने टकरा गई। दु’र्घटना भागलपुर के नवगछिया के खरीक थाना अंतर्गत अंभो चौक के पास राष्ट्रीय उच्च पथ 31 पर मंगलवार की सुबह हुई। दुर्घटना में नवगछिया की तरफ से मुजफ्फरपुर जा रहा पाइप लदा ट्रक सड़क किनारे खाई में गिर गया। ट्रक में सवार करीब एक दर्जन श्रमिक उसके नीचे दब गए।

 

नौ श्रमिकों की मौत, चार की हालत गंभीर

राहत व बचाव दल ने ट्रक के नीचे से नौ मजदूरों के श’व निकाले। जबकि, चार को गंभीर हालत में अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है। उधर, बस में सवार चार श्रमिक भी घायल बताए जा रहे हैं। वे बांका के रहने वाले हैं।

 

ट्रक पर चढ़ गए थे प्रवासी मजदूर

लॉकडाउन के कारण देश में जहां-तहां फंसे श्रमिक किसी न किसी साधन से घर पहुंच रहे हैं। एसडीपीओ प्रवेंद्र भारती ने बताया कि ट्रक दुर्गापुर से बिजली पोल लेकर चला था। इसी बीच उस ट्रक पर बंगाल में प्रवासी मजदूर गाड़ी रोक कर चढ़ गये थे। मृ’तक के परिजनों ने फोन पर बताया कि छह दिन पहले सभी मृ’तक बंगाल से साइकिल पर सवार होकर घर आने के लिए निकले थे। रास्ते में ट्रक पर चढ़ने की जानकारी उन्होंने अपने स्वजनों को दी थी।

 

मृ’तकों के परिजनों को मिलेगा मुआवजा

हा’दसे पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपनी संवेदना व्यक्त की है। उन्‍होंने प्रत्येक मृतक के परिवार को चार-चार लाख रुपये का मुआवजा देने तथा घायलों का समुचित इलाज करने का आदेश दिया है। घटना की सूचना मिलने पर डीआइजी सुजित कुमार और नवगछिया एसपी निधि रानी, एसडीओ मुकेश कुमार वहां पहुंचे।

 

मृ’तकों में चार की हुई पहचान

1: जालिम मियां (विशनपुरा, चौरिया टोला, बेतिया)

2: जुल्म अली (गांव बनकुट नरकटिया, पोस्ट पकरिया हरसिद्धि, पूर्वी चंपारण)

3: नूर होदा मियां (विसनपुर, चौरिया टोला, जगदीशपुर, पश्चिमी चंपारण)

4: शौकत अली (सरैया मिस्रराईन टोला, अंचल पहाड़पुर, पूर्वी चंपारण)

(शेष मृतकों की पहचान की कोशिश जारी है।)

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *