शुक्रवार, दिसम्बर 3

बिहार के 6 जिलों के बार्डर पर तनाव सीमा को किया गया पूरी तरह सील, एक बिहारी की मौत

सोनबरसा के जानकी नगर स्थित लालबंदी बॉर्डर के पास शुक्रवार सुबह 9:30 बजे ग्रामीणों व नेपाल सशस्त्र बल के जवानों के बीच हिंसक झड़प हो गई। नेपाली पुलिस की फायरिंग में एक भारतीय की मौत हो गई जबकि दो जख्मी हो गए। नेपाल पुलिस की फायरिंग से किसी भारतीय की माैत की पहली घटना है। मृतक की पहचान पिपरा परसाई गांव निवासी विकेश राय (25) के रूप में हुई। उमेश राम व उदय शर्मा जख्मी हैं।

वहीं, लगन राय को नेपाल पुलिस उठा ले गई। नेपाल की ओर से 20 राउंड फायरिंग की गई। मृत विकेश के पिता ने बताया कि शुक्रवार सुबह लगन की पत्नी मां से मिलने बॉर्डर गई थी। इसी बीच नेपाल का जवान पहुंचा और हटने के लिए कहा। इसी बात को लेकर बहस होने लगी। एक जवान ने फायरिंग कर दी। एसएसबी और राज्य सरकार ने इसे स्थानीय मुद्दा बताते हुए पूरे मामले की रिपोर्ट केंद्र को भेज दी है।

बिहार के 6 जिलों से लगी नेपाल की सीमा पर बढ़ी गश्त उन जिलों के नाम निम्न प्रकार हैं। 

सीतामढ़ी- सीतामढ़ी से सटे गुआबारी तक सीमा पर चौकसी बढ़ी है। सीमा सील है। पहले लॉकडाउन अब तनाव से आना जाना बंद है। सीमाक्षेत्र को लेकर नेपाल के बदले रुख का सबसे अधिक असर बिहार-नेपाल बाॅर्डर पर दिख रहा है। नेपाल के सीमावर्ती क्षेत्रों में बड़ी संख्या में बिहारी ही बसे हैं। कोरोना और इसके बीच बदलते हालात में बिहार के 6 जिलों से लगती सीमा अब सील है। आवाजाही बंद है। बिहार सीमा पर तैनात एसएसबी कमांडेंट की मानें तो दोनों ओर से चौकसी काफी बढ़ा दी गई है।

सुपौल- कोरोना के बाद से सीमा सील है। अनलॉक वन में भीमनगर सीमा से जांच के बाद ट्रकों को ही प्रवेश की अनुमति दी जा रही है। अररिया- नरपतगंज के फुलकाहा थाना, घूरना थाना, बसमतिया ओपी क्षेत्र से लगने अंतरराष्ट्रीय सीमा पर स्थिति सामान्य है। बेतिया- एसएसबी जवान चौकस हो गए हैं। सीमा पर लगातार पेट्रोलिंग की जा रही है। नेपाल सीमा में बांध का काम भी रुक गया है। किशनगंज- लॉकडाउन से आवागमन पहले से ही बंद है। हाल में कुछ अन्य जगहों पर सीमावर्ती नागरिकों से झड़प की घटना हुई है।
मधुबनी- अराहा, लगडी, मरनैया व महुलिया और लदनियां, झलौन पिपराही में जवानों द्वारा सीमा पर गश्त तेज कर दी गई है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *