#

बिहार में फोरलेन आमस-दरभंगा एनएच-119डी सड़क का निर्माण बारिश के बाद शुरू हो जाएगा। निर्माण एजेंसी को लगभग 6,927 करोड़ रुपये की लागत से लगभग 199 किमी की लंबाई वाले चार पैकेजों में इसके निर्माण के लिए चुना गया हैं। इस सड़क के बनने से सात जिले संपर्क में आ जाएंगे।

 

# कई जिलों से होगी  कनेक्टिविटी

जो जिले जुड़ेंगे उनमें औरंगाबाद, जहानाबाद, नालंदा, पटना, वैशाली, समस्तीपुर और दरबंगा जिले शामिल हैं। यह सड़क पटना जिले के रामनगर से कच्ची दरगाह-बिदुपुर से होकर गुजरेगी। ऐसे में रामनगर से कच्ची दरगाह तक 14 किमी भूमि अधिग्रहण का काम जारी है। उसके बाद निर्माण एजेंसी का चयन किया जाएगा।

 

#  रिंग रोड का हिस्सा होगा पटना 

सूत्रों के मुताबिक यह एनएच औरंगाबाद के आमस के पास एनएच-19 से शुरू होगी। इसके बाद जहानाबाद, नालंदा और पटना के कच्ची दरगाह-बिदुपुर सिक्स लेन गंगा पुल से होकर और समस्तीपुर के ताजपुर से होते हुए दरभंगा में बेला-नवादा के पास एनएच-27 में जाकर जुड़ जायेगी। रामनगर से कच्ची दरगाह – बिदुपुर भी पटना जिले में पटना रिंग रोड का हिस्सा है। आमस-दरभंगा रोड गोपालगंज-किशनगंज एनएच को गोल्डन चतुर्भुज मोहनिया-डोभी एनएच से जोड़ेगी।

 

# यह नेपाल बॉर्डर को झारखंड बॉर्डर से भी जोड़ेगा

यह हाईवे झारखंड बॉर्डर को नेपाल बॉर्डर से जोड़ेगा। वहीं उत्तर और दक्षिण बिहार को बेहतर कनेक्टिविटी मिलेगी। पहले चरण में आमस-शिवरमपुर खंड पर करीब 55 किलोमीटर और दूसरे चरण में शिवरामपुर-रामनगर खंड पर करीब 54.30 किलोमीटर लंबाई में सड़क का निर्माण किया जाएगा। तीसरे चरण में समस्तीपुर के कल्याणपुर से दरभंगा के बलभद्रपुर तक करीब 45 किलोमीटर और चौथे चरण में टाल दसराहा – बेला नवादा खंड में करीब 44.09 किलोमीटर में सड़क का निर्माण किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *