बिहार के सभी स्कूलों के लिए केंद्र सरकार द्वारा नई गाइडलाइन जारी की, गाइडलाइन जारी होने के बाद बिहार के शिक्षा विभाग में भी राज्य के सभी जिलों के शिक्षा अधिकारियों को एवं जिला कार्यक्रम पदाधिकारियों को जल्द से जल्द उचित फैसला लेने का निर्देश जारी किया है। केंद्र सरकार ने गाइडलाइन में कहा है कि,

 

 

अगर तापमान 7 डिग्री सेल्सियस से नीचे जाता है तो ऐसी स्थिति में है सुबह की पाली मैं स्कूलों का संचालन नहीं किया जाए। इसके अलावा अगर जरूरत पड़ी तो स्कूल को बंद भी किया जा सकता है। केंद्र सरकार ने ठंड के असर को देखते हुए सभी राज्यों में अलर्ट जारी करते हुए कहा है कि,

 

 

पटना के मौसम विज्ञान केंद्र की बात करें तो यहां से यह सूचना जारी की गई है कि दो-तीन दिनों में ही तापमान बहुत तेजी से नीचे गिरने वाला है, ऐसे में अगर तापमान 7 डिग्री सेल्सियस से कम हो जाता है तो इसे शीतलहर की स्थिति मानी जाती है। दिसंबर के अंतिम सप्ताह से जनवरी के तीसरे सप्ताह तक शीतलहर की स्थिति बनी रहती है ऐसे में

 

अगर स्कूलों को बंद करना पड़े तो स्कूल के प्रधानाध्यापक शिक्षक बच्चों और अभिभावकों को तुरंत सूचना उपलब्ध कराएं। इसके अलावा शीतला से बचाव के लिए विद्यालयों के नोटिस बोर्ड पर बचाव के लिए दिशा निर्देश के पोस्टर लगाने के निर्देश दिए जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *