बिहार के सभी जमीन मालिकों के लिए जरूरी सूचना पहले जमीन के खतियान में रैयत्धारी का नाम तथा गांव का नाम देखने को मिलता था जिस में बदलाव करते हुए विभाग के द्वारा नया सूचना जारी किया गया है। यह सूचना बिहार के सर्वे निदेशक जय सिंह के द्वारा दी गई है। बिहार के कई जिलों में जमीन के सर्वेक्षण का कार्य बहुत ही तेजी से चल रहा है। इसी दौरान बुधवार को एक बैठक के दौरान यह जानकारी सामने आई है।

 

 

बुधवार को आयोजित वर्चुअल बैठक में यह जानकारी मिली है कि अब सभी खतियान को डिजिटल फॉर्मेट में डाला जाएगा, आपको बता दें की विशेष भूमि सर्वेक्षण के आधार पर बन रहे खतियान में अब रैयत के नाम के साथ डाक का पता भी दर्ज होगा, एवं उस खतियान के रैयतधारी का मोबाइल नंबर खतियान से जोड़ा जाएगा। फिलहाल नाम के साथ सिर्फ गांव का जिक्र रहता है। पता नहीं रहता है, किसके जरिए पत्रचार किया जाये। यह जानकारी सर्वे निदेशक जय सिंह ने दी।

 

बुधवार को इस वर्चुअल बैठक में गोवा के राजस्व सचिव भी मौजूद थे जिन्होंने कहा कि मोबाइल नंबर के जुड़ जाने से नोटिस अथवा तामिला की सही व्यवस्था स्थापित हो जाएगी। अब आने वाले नए खतियान में रैयत्धारी का अब पता भी दर्ज होगा जिससे किसी भी प्रकार का नोटिस जारी करने के लिए किसी भी प्रकार का समस्या का सामना ना करना पड़ेगा। मोबाइल नंबर के जुड़ जाने से यह कार्य और भी आसान हो जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *