बिहार वासियों के लिए केंद्र सरकार ने एक बड़े ही शानदार प्रोजेक्ट को मंजूरी दे दी है। केंद्र सरकार के द्वारा मंजूरी मिलने के बाद विभाग अब टेंडर प्रक्रिया के लिए पूरी तैयारी में जुट गया है। सड़क निर्माण का कार्य इसी चालू है वित्तीय वर्ष में आरंभ करने का लक्ष्य रखा गया है। साथ-साथ इस प्रोजेक्ट के मंजूरी से विकास के रास्ते तो खुलेंगे ही 2 जिलों के साथ-साथ दो प्रदेशों का भी जुड़ाव संभव हो सकेगा।

केंद्र सरकार ने इसी चालू वित्तीय वर्ष में बक्सर मोहनिया नेशनल हाईवे सड़क के लिए मंजूरी दी है जिसका भूमि अधिग्रहण का कार्य शुरू भी हो गया है। इस नेशनल हाईवे के निर्माण के लिए भू अर्जन विभाग में नेशनल हाईवे अथॉरिटी को भूमि कि कागजात सत्यापित करके सौंप दिया। जानकारी के लिए आपको बता दें कि इस नेशनल हाईवे से तीन मौजों को किसी भी प्रकार का नुकसान नहीं होने वाला है, इसका मतलब है रामगढ़ गोडसरा और बंदी पुर इन तीनों मौजों से गुजरने के लिए पर्याप्त भूमि उपलब्ध है जिसका फायदा यह होगा कि यहां के सभी मकान सुरक्षित रहेंगे। कुछ लोगों को नोटिस भेजे जाने की आशंका भी जताई जा रही है।

इस हाईवे प्रोजेक्ट में 5 नए पुल का भी निर्माण किया जाना है, अर्थात यह प्रोजेक्ट 5 नदियों के ऊपर से होकर गुजरेगा, जिसके वजह से पांचो नदियों पर बड़े पुलिया का निर्माण किया जाएगा, यह पांचो पूल पंसेरवा और अंकोढ़ी दुर्गावती नदी, नुआंव में स्थित पजरांव धर्मावती, चौसा में गोरिया और बक्सर में एक नदी पर निर्माण किया जाना है। हिना नदियों पर 10 मीटर चौड़े फूल बनाया जाना है, साथ-साथ जगह-जगह छोटे छोटे पुलिया का भी निर्माण किया जाना है।

नेशनल हाईवे कार्यपालक अभियंता संजीव चौधरी ने जानकारी देते हुए यह स्पष्ट किया है कि नेशनल हाईवे ने इस प्रोजेक्ट को मंजूरी दे दी है। उन्होंने यह भी जानकारी दी है कि इस नेशनल हाईवे पर लगभग 427 करोड़ से अधिक राशि खर्च की जाएगी। इस प्रोजेक्ट में अधिग्रहित होने वाले ज़मीन के जमीन मालिकों को सर्कुलर रेट से 3 गुना अधिक वैल्यू दिए जाने का प्रावधान है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *