बिहार के आवागमन क्षेत्र के विकास के लिए बिहार सरकार द्वारा इस राह में निरंतर प्रयास किए जाते रहे हैं । इसी कड़ी में बिहार सरकार की एक नई योजना सामने आ रही है जिसके तहत विभिन्न शहरों को बस परिचालन द्वारा जोड़ने के लिए अंतर्क्षेत्रीय व अंतर्राज्यीय के विभिन्न मार्गो पर पथ परिवहन निगम ने 10 जोड़ी बसों के परिचालन का निर्णय लिया है। जिनके लिए 9 रूटों का चयन भी किया जा चुका है, जिनमें दरभंगा, मधुबनी, सहरसा, मधुबनी के लौकहा बाजार, त्रिवेणीगंज, पश्चिम बंगाल के सोनामुखी, सुपौल के जदिया, सीतामढ़ी एवं दरभंगा के लहेरियासराय के नाम मुख्य रूप से शामिल है। बताया जा रहा है कि यह सभी बसें लोक निजी भागीदारी योजना के अंतर्गत चलाई जाएंगी। इस योजना के लिए निगम द्वारा बसों को किराए पर लिया जाएगा। गौरतलब है कि बसों के चलने से लोगों की सहूलियत काफी बढ़ जाएगी।

 

# कैसे ली जाएंगी बसें___

जैसा कि हमने बताया कि निगम लोक निजी भागीदारी योजना के तहत बसों को किराए पर लेकर परिचालन करवाएगा । सूत्रों से मिली खबर के अनुसार निगम ने वाहन स्वामियों को आवेदन जमा करने के लिए आमंत्रित किया है। यहां आपको बता दें कि आवेदन जमा करने की अंतिम तिथि 23 अगस्त निर्धारित की गई है।

 

# किन रूटों पर शुरू किया जाएगा बसों का परिचालन___

* भागलपुर से दरभंगा के लिए चार बस चलाने की योजना है । इससे दरभंगा जाने में आसानी होगी ।

* भागलपुर से मधुबनी के बीच दो बस चलाने की योजना है । भागलपुर में मधुबनी के काफी लोग रहते हैं ।

* भागलपुर से सहरसा के बीच दो बस चलाने की योजना ।

* भागलपुर से लौकहा के बीच दो बस चलाने की योजना है, मधुबनी जिले के लौकहा बाजार से भागलपुर के लिए बस चलेगी ।

* भागलपुर से त्रिवेणीगंज के बीच दो बसों को चलाने की योजना है । सुपौल के त्रिवेणीगंज से बसें चलेगी ।

* भागलपुर से सोनामुखी के बीच दो बस चलाने की योजना है, पश्चिम बंगाल के सोनामुखी से बस चलाने की मांग काफी दिनों से चल रही है।

* भागलपुर से जदिया के बीच दो बस चलाने की योजना है । सुपौल जिले के जदिया से भागलपुर के बीच बस चलाने की योजना काफी पुरानी है ।

* भागलपुर से सीतामढ़ी के बीच दो बसों को चलाने की योजना है । बसों के चलने से भागलपुर-सीतामढ़ी आपस में जुड़ जायेगा ।

* भागलपुर से लहेरियासराय के बीच दो बस चलाने की योजना है । इससे भागलपुर से दरभंगा जिले के बीच आवागमन आसान हो जायेगा ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.