सोमवार, नवम्बर 29

बिहार के एक जिले में शॉपिंग मॉल एवं सभी प्रकार के दुकानों को खोलने की अनुमति, नया फार्मूला लागू

नए नियम के तहत मौर्या कॉम्प्लेक्स, चांदनी मार्केट, वर्मा सेंटर, हरिहर चैंबर, चूड़ी मार्केट, हथुआ मार्केट, पटना मार्केट, खेतान मार्केट, बाकरगंज मार्केट, गोसाईं टोला रोड मार्केट चितकोहरा बाजार की दुकानें ऑड-ईवन फार्मूला के तहत खुलेंगी। डुमरा चौकी से जगदेव पथ तक राजाबाजार फ्लाई ओवर के नीचे बेली रोड पर सामान्य दुकान खोलने पर रोक है। यहां सिर्फ आवश्यक वस्तु में शामिल किराना, दूध, दवा, मेडिकल क्लिनिक की दुकानें खुलेंगी। डीएम ने बताया कि सभी श्रेणी की दुकानों को खोलने का नया फॉर्मूला सोमवार से प्रभावी होगा। बिग बाजार को हर दिन खुलने की अनुमति दी गई है, लेकिन वहां सिर्फ अति आवश्यक सामग्रियों की बिक्री ही की जा सकेगी।


पटना| अब शॉपिंग कॉम्प्लेक्स भी खुलेंगे। मार्केट सातों दिन खुलेगा। जिला प्रशासन ने अलग-अलग दिन अलग-अलग दुकानों को खोलने की अनुमति दी है। डीएम कुमार रवि ने कहा कि सभी दुकानें शाम 6 बजे तक ही खुलेंगी। शॉपिंग कॉम्प्लेक्स और मार्केट कॉम्प्लेक्स की दुकानों व प्रतिष्ठानों को मार्केट कॉम्प्लेक्स के संचालक या सक्षम समिति के द्वारा दुकान को सम-विषम संख्या के आधार पर बांटा जाएगा। यानी दुकानों को दो रंग या आड-ईवन (सम-विषम) के आधार पर चिन्हित किया जाएगा। आधी दुकानों को सोमवार, बुधवार, शुक्रवार व आधी मंगलवार, बृहस्पतिवार और शनिवार को खोली जाएंगी। मार्केट कॉम्प्लेक्स व शाॅपिंग कॉम्प्लेक्स में दुकानों की प्रकृति नहीं देखी जाएगी।

रोज खुलने वाली दुकानें
किराना, डेयरी /मिल्क बूथ, मेडिकल /दवा, ई-कॉमर्स, फल सब्जी मंडी, पशु चारा, ऑटोमोबाइल वर्कशॉप, गैरेज एवं सर्विसिंग सेंटर, सभी अस्पताल, होम डिलीवरी सेवा ( रेस्टोरेंट आदि से), अनाज मंडी, कृषि कार्य से जुड़े सभी प्रतिष्ठान, मीट एवं मछली, अन्य आवश्यक आपातकालीन सेवाएं।

मंगल, गुरुवार, शनिवार
कपड़ा की दुकान (रेडीमेड वस्त्र की दुकान सहित), निजी क्लीनिक बर्तन की दुकान, जूता चप्पल की दुकान, ड्राई क्लीनर्स की दुकान स्पोर्ट्स /खेलकूद सामग्री की दुकान, फर्नीचर की दुकान, सोना चांदी की दुकान, अन्य सभी दुकान जो किसी सूची में नहीं हो।


सोमवार, बुधवार, शुक्रवार
इलेक्ट्रिकल गुड्स, पंखा ,कुलर, एयर कंडीशनर (विक्रय एवं मरम्मत), मोबाइल, लैपटॉप, कंप्यूटर, यूपीएस एवं बैटरी (विक्रय एवं मरम्मत), ऑटोमोबाइल्स, टायर एवं ट्यूब्स (मोटर वाहन /मोटरसाइकिल/ स्कूटर मरम्मत सहित), सीमेंट, स्टील, बालू स्टोन, मिट्टी, सीमेंट ब्लॉक, ईंट, प्लास्टिक पाइप, हार्डवेयर, सैनिटरी फिटिंग, लोहा, पेंट, शटरिंग ऑटोमोबाइल स्पेयर पार्ट्स, हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट, प्रदूषण जांच केंद्र, निजी कार्यालय (33% कर्मी), शैक्षणिक संस्थानों के कार्यालय (33% कर्मचारी)

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *