#

मालदा-भागलपुर-केयूल रेल खंड पर अब चलने वाली ट्रेनों की रफ्तार बढ़ेगी। इस ट्रेन की रफ्तार 110 से बढ़कर 130 किमी/घंटा हो जाएगी। इसके साथ ही भागलपुर-मंदेरहिल खंड में भी ट्रेनों की गति 110 किमी प्रति घंटा होगी। ट्रेनों की गति 50 किमी से बढ़ाकर 110 किमी प्रति घंटा करने के संबंध में पांच दिन पूर्व विभागों के मुख्य अभियंता (समन्वय) द्वारा पूर्वी रेलवे के मुख्यालय को प्रस्ताव भेजा गया था। जैसे-जैसे ट्रेनों की गति बढ़ेगी, यात्रा बहुत ही कम समय में पूरी होगी।

 

रेलवे अधिकारियों के मुताबिक, रेल मंत्रालय ने देश में सभी बी क्लास रूटों की स्पीड 130 किमी प्रति घंटा और डी क्लास रूट्स की स्पीड 110 किमी प्रति घंटा करने का निर्देश दिया है। मंत्रालय के निर्देशानुसार मालदा-साहिबगंज-भागलपुर-किऊल डी रूट की ट्रैक क्षमता 110 से बढ़ाकर 130 किमी की जा रही। इस साल मई में इस रूट पर 110 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से ट्रेनें चलती हैं। रेलवे अधिकारियों ने गति 20 किमी बढ़ाने की तैयारी शुरू कर दी है।भागलपुर-मंदेरहिल खंड डी श्रेणी का मार्ग है। इसलिए इस सेक्शन में चलने वाली ट्रेनों की स्पीड भी बढ़ाई जाएगी। वर्तमान में ट्रेनें 50 किमी प्रति घंटे की अधिकतम गति से चलती हैं।

 

मुख्यालय की मंजूरी से भागलपुर-मंदेरहिल और बरहाट-बांका रेल खंड पर 110 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से इलेक्ट्रिक ट्रेनें जल्द चलेंगी। 23 जुलाई को 120 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से इलेक्ट्रिक ट्रेन चलाकर दोनों सेक्शन में स्पीड टेस्ट किया गया। भागलपुर से मंदारहिल स्टेशन तक 10 किलोमीटर की दूरी महज 42 मिनट में स्पीड एक्सपेरिमेंट के दौरान तय की गई । उनका यह प्रयोग भी सफल रहा। ट्रायल में ट्रैक एकदम फिट पाया गया। भागलपुर से मंदार हिल के बीच 50 किलोमीटर में सिंगर रेलवे लाइन पर कुछ स्टेशने पढ़ते हैं जैसे कि कोइली-खुटाहा, गोनूबाबा धाम, पुरैनी, जगदीशपुर, टेकानी, संझा, बेला, धौनी, पीपराडीह, पुनसिया, बाराहाट, पंजवारा रोड, मंदार विद्यापीठ, मंदारहिल आदि । रेलवे लाइन पर अब इलेक्ट्रिक ट्रेनें चलाई जा रही है ।

 

पहले इस रेलवे लाइन पर डीजल इंजन चलाई जाती थी ।यह सेक्शन वर्तमान में 50 किमी/घंटा की गति से काम कर रहा है। आठ जोड़ी पैसेंजर और तीन जोड़ी एक्सप्रेस ट्रेनें भागलपुर-मंदारहिल सेक्शन पर चल रही है । मंदारहिल और हंसडीहा के बीच 60 किमी प्रति घंटे और हंसडीहा-गोड्डा के बीच 90 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से ट्रेनों को चलाया जा रहा है। रेलवे बोर्ड के निर्देशानुसार रूट डी पर ट्रेनों की गति बढ़ाकर 110 किलोमीटर प्रति घंटा करने की पहल तेज कर दी गई है । मंदारहिल- हंसडीहा और हंसडीहा-गोड्डा अब यह दोनों ट्रेनों की गति को बढ़ाकर 110 किलोमीटर प्रति घंटा की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *