बिहार का गोपालगंज जिला तथा सिवान जिला ऐसा जिला है जहां विदेशों से सबसे अधिक पैसा अपने देश में आता है, क्योंकि यहां के हर 10 में से 8 घरों के एक व्यक्ति विदेशों में कार्य करते हैं। फिर भी यहां के लोग विकास से वंचित हैं। बिहार का गोपालगंज जिला ऐसा जिला है जहां से एक भी एक्सप्रेस गाड़ी नहीं खुलती है।

 

लेकिन अब जल्द ही इन जिलों के रेल यात्रियों के लिए भी दिन बदलने वाले हैं, अब इन जिलों से भी दिल्ली मुंबई अथवा सूरत के लिए सीधी रेल यात्रा का सपना सच होने वाला है। 369.14 करोड़ रुपए की लागत से बिछाई जा रही इस रेलखंड पर अब इन जिलों से दिल्ली मुंबई अथवा सूरत के लिए सीधी ट्रेनों का परिचालन शुरू किया जा सकेगा।

 

आने वाले 1 अप्रैल से थावे से मशरख रेल खंड पर ट्रेनों का परिचालन शुरू हो जाएगा यह जानकारी वाराणसी रेलखंड के डीआरएम रामाश्रय पांडे द्वारा ली गई है, निरीक्षण के दौरान सिधवलिया रेलवे स्टेशन पर छपरा लखनऊ गोमती नगर एक्सप्रेस और पाटलिपुत्र गोरखपुर एक्सप्रेस के ठहराव की माँग भी की गयी। इस बात पर आश्वासन देते हुए अधिकारी ने यह कहा कि इन ट्रेनों के ठहराव से क्षेत्र जिला का विकास होगा तथा व्यापार के नए रास्ते खुलेंगे इसके लिए हर संभव प्रयास किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *