पटना में मीठापुर बस स्टैंड से 15 जुलाई से बसाें का परिचालन बंद हाे जाएगा। बस स्टैंड बैरिया स्थिति पाटलिपुत्र अंतरराज्यीय बस टर्मिनल में शिफ्ट हाे जाएगा। इसके बाद मीठापुर बस स्टैंड की की जमीन पर पाटलिपुत्र विश्वविद्यालय बनेगा। जिला प्रशासन ने बस स्टैंड की 8 एकड़ जमीन को पाटलिपुत्र विवि के लिए चिह्नित कर रिपाेर्ट भेजी है। मीठापुर का इलाका एजुकेशनल हब के ताैर पर विकसित किया जा रहा है।

 

 

उधर, 15 एकड़ जमीन पर बैरिया स्थित पाटलिपुत्र अंतरराज्यीय बस टर्मिनल का विस्तार होगा। इसके लिए टर्मिनल के दक्षिण जमीन चिह्नित की गई है। जिला प्रशासन ने जमीन की प्रकृति सहित अन्य विस्तृत जानकारी के साथ नगर विकास विभाग को रिपाेर्ट दी है। विभाग से राशि मिलने के बाद जमीन का अधिग्रहण शुरू होगा।

 

 

विस्तार के बाद बांकीपुर बस स्टैंड भी हाेगा शिफ्ट
आईएसबीटी का 15 एकड़ जमीन पर विस्तार होने के बाद बांकीपुर बस स्टैंड को भी वहां शिफ्ट किया जाएगा। इसके साथ ही 10 एकड़ जमीन के अधिग्रहण की याेजना भविष्य में बढ़ने वाली बस को लेकर बनाई गई है। वर्तमान समय में बांकीपुर बस स्टैंड को शिफ्ट करना संभव नहीं है।

 

 

दो चरणों में होगा 25 एकड़ जमीन का अधिग्रहण
प्रशासनिक अधिकारियों के मुताबिक, आईएसबीटी के लिए कुल 25 एकड़ जमीन का अधिग्रहण करने की योजना है। इसमें पहले चरण में 15 एकड़ और दूसरे चरण में 10 एकड़ जमीन शामिल है। प्रशासन द्वारा चिह्नित 15 एकड़ जमीन बादशाही पईन के उत्तर और आईएसबीटी के दक्षिण है। शेष 10 एकड़ जमीन बादशाही पईन के दक्षिण तरफ है। वर्तमान समय में आईएसबीटी 25 एकड़ में बना है।

 

 

इसमें 10 एकड़ जमीन पर भवनों का निर्माण हुआ है। 9 एकड़ जमीन बसों की पार्किंग के लिए है। 7 एकड़ जमीन में बसों को आने-जाने के लिए रोड और शेष जमीन ग्रीनफिल्ड के रूप में विकसित किया गया है। अधिकारियों के मुताबिक, मीठापुर बस स्टैंड की जमीन 8 एकड़ है। जबकि, टर्मिनल में पार्किंग की जमीन 9 एकड़ है। इस कारण शिफ्टिंग के बाद जगह की काेई समस्या नहीं है।

 

 

अभी टर्मिनल से जहानाबाद और गया के लिए बस का परिचालन हो रहा है। 15 जून से नालंदा, नवादा, शेखपुरा और जमुई जिले की बसों का परिचालन होगा। शेष जिलों और दूसरे राज्यों की बसाें का परिचालन 15 जुलाई से होगा।

 

 

छह मंजिला बनेगा गांधी मैदान ट्रैफिक थाना
गांधी मैदान ट्रैफिक थाना के जर्जर भवन के स्थान पर छह मंजिली बिल्डिंग बनेगी। वहां ट्रैफिक पुलिस लाइन भी होगी। जब्त गाड़ियों को रखने के लिए पर्याप्त स्थान पर पार्किंग होगी। गृह विभाग ने इसके निर्माण के लिए 6 करोड़ 56 लाख रुपए की प्रशासनिक स्वीकृति दे दी है।

 

 

 

इसके अलावा खगड़िया पुलिस केंद्र में 200 महिला सिपाहियों के रहने के लिए दो मंजिला बैरक निर्माण के लिए 4 करोड़ 79 लाख, दरभंगा के बिरौल थाना भवन, आउट हाउस व आधारभूत संरचना के लिए 6 करोड़ 48 लाख, गया के इमामगंज अनुमंडल में बोधि बिगहा में मॉडल थाना भवन और आउट हाउस के लिए 6 करोड़ 11 लाख, सारण के मशरख थाना भवन, 20 बेड वाले बैरक के निर्माण के लिए 7 करोड़ 20 लाख और बनियापुर मॉडल थाना भवन के निर्माण के लिए 6 करोड़ 52 लाख की स्वीकृति दी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *