#

बिहार के आम लोगों की फ़िलहाल सबसे बड़ी समस्या रोज़गार है, जिसके लिए राज्य सरकार लगातार कार्य कर रही है। इसी बीच खबर मिली है की बिहार को सबसे बड़े औधोगिक पार्क की बड़ी ख़ुशख़बरी मिलने वाली है। मिली जानकारी के अनुसार इस शानदार औधोगिक पर को 1600 एकड़ ने विकसित किया जाएगा। जिसकी प्रक्रिया शुरू भी की जा चुकी है।

 

ज्ञात हो की अमृतसर से कोलकाता तक जाने वाली दिल्ली-अमृतसर-कोलकाता औधोगिक कॉरिडोर को विकसित किया जा रहा है। इस कोरिडोर का बिहार राज्य से गुजरने वाला है, बिहार के गया ज़िले से गुजरने के वजह से राज्य सरकार ने यह निर्णय लिया है की यहाँ पर औधोगिक पार्क की स्थापना की जाए। इस योजना के ज़मीन अधिग्रहण का कार्य शुरू किया जा चुका है।

 

आपको बता दें की इस शानदार औधोगिक पार्क होने वाले खर्च का 50 प्रतिशत रक़म राज्य सरकार तथा 50 प्रतिशत रक़म केंद्र सरकार वहन करेगा। कोलकाता तक जाने वाली इस कोरिडोर का सबसे बड़ा फ़ायदा बिहार को यह होगा की बिहारवासियो को बंगाल के लिए एक और रूट का विकल्प मिल जाएगा जिससे अपने राज्य के आर्थिक गतिविधियों को बढ़ावा मिलेगा।