भारत में डबल डेकर ट्रेन का परिचालन देश के कुछ चुनिंदा रूटों पर शुरू होने वाला है, जिसमें फिलहाल यह ट्रेन लखनऊ से दिल्ली तथा नई दिल्ली से जयपुर के बीच दौड़ रही है। सबसे पहले इस ट्रेन की खासियत के बारे में जाने, इसे ट्रेन में यात्रियों के प्रवेश के लिए स्वचालित स्लाइडिंग दरवाजे और हर कोच में बैटरी की व्यवस्था की गई है। अत्याधुनिक सस्पेंशन सिस्टम की वजह से इसी ट्रेन में यात्रियों की सुरक्षा और बढ़ जाती है।

 

आधुनिक तकनीक से लैस इस ट्रेन में अगले स्टेशन की जानकारी, ट्रेन का वर्तमान लोकेशन और आपके गंतव्य स्टेशन तक पहुंचने में कितना समय लगेगा इन सभी चीजों के लिए स्क्रीन लगाई गई है, रेलवे ने इस ट्रेन का नाम सेमी हाई स्पीड डबल डेकर कोच रखा है। इस ट्रेन को उन व्यस्त रूटों पर चलाने के लिए बनाया गया है जहां पर यात्रियों की संख्या बहुत ही ज्यादा है, प्रत्येक बोगी में ऊपर वाले डेकर पर 50 सीट और नीचे वाले डेक पर 48 सीटों बनाई गई है इन सीटों को पीछे भी किया जा सकता है।

 

और बिहार की बात करें तो बहुत जल्द ही पटना से दिल्ली तथा दिल्ली से हावड़ा (बिहार होते हुए) इन रूटों पर डबल डेकर ट्रेन का परिचालन किया जाएगा। इसके लिए सभी तैयारियां पूरी कर ली गई है रेलवे विभाग की अनुमति के बाद इस पर आगे कार्य किया जाएगा। इस ट्रेन में किराया की बात की जाए तो तेजस अथवा शताब्दी से इसे ट्रेन का किराया कम होगा क्योंकि आमतौर पर लखनऊ से दिल्ली पहुंचने में तेजस ट्रेन को साडे 6 घंटे का समय लगता है वही डबल डेकर ट्रेन को 8 घंटे का समय लगेगा इसलिए किराया के मामले में यह ट्रेन किसी भी रूट पर यात्रियों के लिए किफायती साबित होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *