बिहार,( कुलसूम फात्मा )कोरोना संक्रमण तेजी से बढ़ने से लोगों में खौफ फैला है वहीं सरकार संक्रमण की रोकथाम के लिए अलग-अलग तरीके खोज रही है। बिहार ही नहीं बल्कि पूरे देश में कोविड-19 का टीकाकरण कार्य युद्ध स्तर पर जारी है। अप्रैल की 1 से 45 साल से ऊपर के लोगों का टीकाकरण किया जा रहा है।

 

 बिहार राज्य के मुख्यमंत्री ने बताया –

शनिवार के दिन में बिहार राज्य के मुख्यमंत्री ने बताया था सभी पार्टियों के साथ कल मीटिंग हुई और महामारी से लड़ने के संबंध में सभी लोगों ने मीटिंग में अपने अपने सुझाव रखे कल जिला अधिकारियों के साथ संक्रमण के बढ़ते मामलों के ऊपर पुनः मीटिंग होगी। और आज एख बार फिर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने वायरस की फैलती स्थिति को संभालने के लिए जिला अधिकारियों तथा एसपी के साथ मीटिंग की मीटिंग में लिए निर्णय के संबंध में अभी पता नहीं चल सका है।

 

संक्रमण की रोकथाम के लिए आइसोलेशन है जरूरी

संक्रमण की रोकथाम के लिए आइसोलेशन के लिए यदि आपके घर में जगह नहीं है तो संक्रमण के बढ़ती गति को देखते हुए किसी भी मरीज को दिक्कत नहीं हो, चाहे वह गंभीर हो या फिर सामान है। इसी कारण कम गंभीर मरीजों के लिए पटना में  सेंटर बना दिए गए हैं। सरकार ने यहां हल्के लक्षण वाले मरीजों को रखने का फैसला लिया है

 

इन जिलों में उपलब्ध कोविड   केयर सेंटर –

पाटलिपुत्र अशोक 137 बेड
राधास्वामी सत्संग केंद्र 50 बेड
अनुमंडल अस्पताल बाड़ 30 डेज
डायट सेंटर विक्रम 100
डायट सेंटर बाढ़ – 100 बेड
डीएफआई चैरिटेबल ट्रस्ट, 50 बेड
ट्रेनिंग सेंटर खरीमोड़, 100 बेड
अनुमंडल अस्पताल मसौढ़ी 100 बेड
डायट सेंटर मसौढ़ी 100 बेड।

Leave a Reply

Your email address will not be published.