बुधवार, दिसम्बर 8

पुरे भारत में 31 मार्च तक रेल सेवा बंद करने की घोषणा, सिर्फ मालगाड़ियां चलेंगी।

कोरोना वायरस के बढ़ते प्रभाव को रोकने के लिए रेलवे ने रविवार को बड़ा कदम उठाया। रेलवे ने 31 मार्च तक के लिए सभी पैसेंजर ट्रेनों को कैंसल कर दिया है।रेलवे ने बयान जारी कर बताया है कि 22 मार्च की आधी रात से 31 मार्च की आधी रात तक केवल मालगाड़ियां चलेंगी। बता दें कि कोरोना वायरस को लेकर प्रधानमंत्री मोदी द्वारा घोषित जनता कर्फ्यू के मद्देनजर देश में आज कोई भी ट्रेन नहीं चल रही है। बीती रात से ही आज रात दस बजे के बीच किसी भी स्टेशन से कोई यात्री ट्रेन सफर शुरू नहीं कर रही है। कोरोना वायरस के चलते गैर-जरूरी यात्रा पर रोक लगाने के मकसद से रेलवे ने तकरीबन चार हजार ट्रेनों को कैंसिल किया है। इसमें 2,400 पैसेंजर ट्रेन और 1300 एक्सप्रेस ट्रेन शामिल हैं।

पीएम मोदी द्वारा जनता कर्फ्यू की अपील के बाद रविवार को पूरे देश में अभूतपूर्व बंदी देखने को मिल रही है। लाखों लोगों ने खुद को घरों के भीतर सीमित रखा, वहीं सड़कों पर इक्का दुक्का वाहन ही नजर आए। सुबह सात बजे से अगले 14 घंटे के लिए जनता कर्फ्यू प्रभावी होने के बाद लोगों ने सामाजिक दूरी बनाए रखने की पहल के तहत खुद को घरों के भीतर ही सीमित रखा और सार्वजनिक परिवहन के कुछेक वाहन खाली सड़कों पर नजर आए।

कोरोना वायरस से देश में अब तक छह लोगों की मौत हो चुकी है। इसके अलावा 341 पॉजिटिव मामले पाए जा चुके हैं। देश के विभिन्न हिस्सों से नए मामले सामने आए हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि इन कुल मामलों में 41 विदेशी नागरिक भी शामिल हैं। मंत्रालय ने बताया, ‘भारत में कोविड-19 से अब 296 लोग संक्रमित हैं। 24 अन्य लोग स्वस्थ हो गए या उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई या वे कहीं और चले गए जबकि चार लोगों की मौत हो गई। महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के सबसे अधिक 74मामले हैं जिनमें तीन विदेशी भी शामिल हैं। इसके बाद केरल में 52 मामले में हैं जिनमें सात विदेशी नागरिक शामिल हैं।’

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *