भारत के सभी बैंक के खाताधारकों के लिए एक जरूरी सूचना जारी की जा रही है, आगामी नए वर्ष के एक जनवरी 2022 से नगद निकासी के लिए आपको पहले से ज्यादा शुल्क लगेगा। इसी वर्ष अगस्त 2021 ने लेनदेन पर इंटरचेंज शुल्क ₹15 से बढ़ाकर ₹17 किया गया था।

 

इस वर्ष अगस्त 2021 में केंद्रीय बैंकों में वित्तीय लेनदेन के लिए ₹15 बढ़ाकर ₹17 इंटरचेंज शुल्क लागू किया तथा गैर वित्तीय लेनदेन के लिए ₹5 से बढ़ाकर ₹6 किया गया। आरबीआई के अनुसार सभी बैंकों को नगद नगद और एटीएम लेनदेन के लिए शुल्क बढ़ाने की अनुमति प्रदान है।

 

 

इस अनुसार बैंक को प्रति लेन-देन पर ₹21 तक बढ़ाने की अनुमति शामिल है, 1 जनवरी 2022 से प्रभावी इस फैसले से आम ग्राहकों पर क्या असर पड़ेगा आइए जानते हैं। उदाहरण के तौर पर एक्सिसबैंक के खाताधारकों के लिए एटीएम से मुक्त सीमा के ऊपर वित्तीय लेनदेन करने पर ₹21 के बाद जीएसटी भी देना होगा।

 

 

बैंक के ग्राहक अपने एटीएम से हर महीने 5 मिनट लेन-देन फ्री में कर सकते हैं, इसमें मेट्रो केंद्रों में अन्य बैंक के एटीएम से तीन तथा गैर मेट्रो केंद्रों में पांच लेनदेन करने पर कोई शुल्क नहीं लगेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *