सोमवार, नवम्बर 29

जरुरी सुचना : गोरखपुर हमसफ़र 24 मार्च से निरस्त 4336 टिकट कैंसिल, इन बस रूटों पर भी आ’फत

कोरोना वा’यरस के बढ़ते संक्रमण के चलते अब ट्रेनों के संचलन पर भी सं’कट के बादल मं’डराने लगे हैं। गोरखपुर से आनंद विहार के बीच चलने वाली वातानुकूलित हमसफर एक्सप्रेस और बस्ती से प्रयागराज के बीच चलने वाली मनवर संगम एक्सप्रेस 24 मार्च से एक अप्रैल तक निरस्त रहेगी। पूर्वोत्तर रेलवे प्रशासन ने मंगलवार को रेलवे बोर्ड को प्रस्ताव भेज दिया है। इस बीच 11 से 16 मार्च तक 4336 यात्रियों ने अपनी टिकट कैं’सिल कराया।

दोनों ट्रेनों को निरस्त करने के लिए पूर्वोत्तर रेलवे प्रशासन ने अपने प्रस्ताव में यात्रियों की घटती संख्या और आमदनी का प्रमुखता से उल्लेख किया है। पूर्वोत्तर रेलवे ने बोर्ड को बताया है कि हमसफर एक्सप्रेस में 24 मार्च से एक अप्रैल तक टिकटों की बुकिंग सामान्य से भी कम हुई है। 25 और 26 मार्च को तो सिर्फ आठ फीसद तथा 27 मार्च और एक अप्रैल को 18-18 फीसद टिकट ही बुक हो पाए हैं। मनवर संगम एक्सप्रेस में रोजाना जनरल के लगभग 230 यात्री ही सफर कर रहे हैं। आमदनी भी घटकर औसत 19500 रुपये रह गई है।

हमेशा फुल होकर दिल्ली के रास्ते हिसार तक जाने वाली 12555 गोरखधाम एक्सप्रेस में पहली बार कोरोना वा’यरस के बढ़ते सं’क्रमण का असर दिखा। सोमवार को इस ट्रेन में भारी भीड़ थी। प्लेटफार्म पर अफ’रात’फरी रही लेकिन मंगलवार को भीड़ गायब थी। आरक्षित के साथ जनरल के यात्रियों की संख्या भी काफी कम थी। जनरल कोच में तो यात्री दिखे लेकिन शयनयान श्रेणी की बोगियां लगभग खाली रहीं। होली के बाद आरक्षित टिकट निरस्त कराने वालों की संख्या लगातार बढ़ती ही जा रही है। व्यवसायी भी सं’क्रमण का प्रभाव कम होने का इंतजार कर रहे हैं और यात्रा से परहेज कर रहे हैं।

शनिवार को गोरखपुर जंक्शन स्थित काउंटरों से करीब 30 हजार जनरल टिकटों की बिक्री हुई। वहीं सोमवार को यह आंकड़ा 36 हजार से अधिक था। आरक्षित टिकटों के बुकिंग व निरस्तीकरण की स्थिति 11 मार्च- 1925 टिकट बुक, 428 निरस्त। 12 मार्च- 2214 टिकट बुक, 525 निरस्त। 13 मार्च- 1938 टिकट बुक, 879 निरस्त।14 मार्च- 1958 टिकट बुक, 1192 निरस्त। 16 मार्च – 2095 टिकट बुक, 1312 निरस्त।

गोरखपुर के रास्ते दिल्ली जाने वाली कुछ प्रमुख ट्रेनें 15057 गोरखपुर-आनंदविहार एक्सप्रेस 12553 वैशाली एक्सप्रेस 12565 बिहार संपर्क क्रांति 12557 सप्तक्रांति 15529 आनंदविहार जनसाधारण 15279 पूरबिया एक्सप्रेस 19270 पोरबंदर एक्सप्रेस 12523 न्यू जलपाईगुड़ी एक्सप्रेस 15909 अवध-असम 15707 आम्रपाली 15273 सत्याग्रह 14673 शहीद एक्सप्रेस।

गोरखपुर-काठमांडू बस सेवा पर भी ग्र’हण – संक्रमण ने पर्यटन के साथ परिवहन निगम को भी बैकफुट पर धकेल दिया है। महत्वाकांक्षी गोरखपुर-काठमांडू बस सेवा को परमिट मिलने के बाद भी हरी झंडी नहीं मिल पा रही है। दो नई जनरथ बसों को संचालित करने की प्रक्रिया भी शुरू हो गई है। परमिट में दोनों जनरथ बसों का नंबर दर्ज कराया जा रहा है। गोरखपुर से काठमांडू एसी बस सेवा के तहत गोरखपुर से जनरथ बस यात्रियों को लेकर काठमांडू के लिए रवाना होगी। नेपाल से टाटा मार्को पोलो मैग्ना बस गोरखपुर आएगी। बसों की पार्किंग दोनों देशों के अधिकृत डिपो में ही होगी। नेपाल सरकार ने पहले से ही बस सेवा की संस्तुति प्रदान कर दी है।

एसी जनरथ बस गोरखपुर से काठमांडू के लिए रोजाना शाम चार बजे रवाना होगी। लगभग 370 किमी की दूरी 12 घंटे में यात्रा पूरी हो जाएगी। लगभग 875 रुपये किराया निर्धारित किया गया है। हालांकि समय सारिणी और किराए में बदला हो सकता है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *