गोरखपुरवासियों के लिए जल्द ही इलेक्ट्रिक बसों का संचालन शुरू होने जा रहा है जिसके लिए रूट का भी चयन कर लिया गया है। 31 मार्च 2021 से पहले गोरखपुर के नगर निगम प्रशासन को इलेक्ट्रिक बसों के लिए चार्जिंग स्टेशन तैयार कर लेने का निर्देश दिया गया है नगर आयुक्त ने इलेक्ट्रिक बस चार्जिंग स्टेशन का निरीक्षण करके काम को जल्द से जल्द पूरा करने का निर्देश दिया।

 

 

नगर परिवहन प्रणाली के तहत शासन में गोरखपुर वासियों के लिए 25 इलेक्ट्रिक बसों का संचालन के लिए मंजूरी दे दी है जिसके लिए रूट भी तय कर दिए गए इन बसों को चार्ज करने के लिए शहर में अलग-अलग जगहों पर चार्जिंग स्टेशन का निर्माण कराया जा रहा है जिसमें जंगल बहादुर अली, सेहरा इन स्थानों पर इलेक्ट्रिक बसों के चार्जिंग के लिए स्टेशन बनाए जा रहे हैं। 11.43 करोड़ रुपए सेइस चार्जिंग स्टेशन का निर्माण किया जा रहा है।

 

 

पहले से प्रस्तावित दोनो रूटों का पूर्ण विवरण इस प्रकार है। पहले रूट के अंतर्गत रानीडीहा तिराहा से झूँगिया तक है जिसके बीच, एमएमएमयूटी, कूड़ाघाट, गुरुंग तिराहा, आरकेबीके, मोहद्दीपुर चौराहा, विश्वविद्यालय चौराहा, रोडवेज बस स्टेशन, रेलवे स्टेशन, यातायात तिराहा, काली मंदिर, पटेल चौराहा, धर्मशाला फ्लाईओवर, असुरन चौक, एचएन सिंह चौराहा, राप्तीनगर चौराहा, खजांची चौराहा, मुगलहा पेट्रोल पंप, मेडिकल कॉलेज, झुंगिया गेट, झुंगिया चौराहा तक रखा गया है। वही दूसरा रूट कुछ इस प्रकार है।

 

 

 

दूसरा रूट नौसढ़ से मसेहरा तक है, जिसके बीच खजनी रोड, ट्रांसपोर्ट नगर पुलिस चौकी, महेवा मंडी, रुस्तमपुर, दाउदपुर, पैडलेगंज, छात्रसंघ चौराहा, विश्वविद्यालय चौराहा, रोडवेज बस स्टेशन, रेलवे स्टेशन, यातायात तिराहा, धर्मशाला बाजार चौराहा, तरंग क्रासिंग, गोरखनाथ फ्लाईओवर, गोरखनाथ थाना, गोरखनाथ चिकित्सालय, इंडस्ट्रियल स्टेट रोड, बरगदवा तिराहा, स्टेशनों पर ठहराव रखा गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.