सोमवार, नवम्बर 29

गोरखपुर के प्याज खरीदारों के लिए बड़ी खुशखबरी, एक आदमी को 5 किलो मिलेगा और कीमत

प्याज की बढ़ती कीमतों के कारण आलोचना झेल रही सरकार ने अब शहरी क्षेत्र में सस्ती दर पर प्याज वितरण का निर्णय लिया है। जिला पूर्ति अधिकारी कार्यालय द्वारा शहरी क्षेत्र में कोटेदारों के जरिए लोगों को प्याज उपलब्ध कराया जाएगा। पीडीएस की दुकान संचालित करने वाले प्रति व्यक्ति 5 किलोग्राम प्याज 65 रुपये की दर पर उपलब्ध कराएंगे।

शासन के निर्देश पर उत्तर प्रदेश राज्य सहकारी वितरण संघ गोरखपुर को 25 टन प्याज वितरण के लिए उपलब्ध करा रहा है। राजकीय उद्यान के अधीक्षक ने बताया कि बढ़ती कीमतों के मद्देनजर सार्वजनिक वितरण प्रणाली के जरिए इसे शहरी क्षेत्र में उपलब्ध कराया जाएगा। गोरखपुर के शहरी क्षेत्र में वितरण के लिए प्याज एक-दो दिन में गोरखपुर में उपलब्ध हो जाएगी। एक व्यक्ति को अधिकतम 5 किलोग्राम प्याज 65 रुपये प्रति किलोग्राम की दर पर उपलब्ध कराया जाएगा। हालांकि जिला पूर्ति अधिकारी आनंद कुमार सिंह कहते हैं कि उन्हें अभी इसकी सूचना नहीं है। निर्देशानुसार वितरण कराया जाएगा।

अक्तूबर माह में 25 टन प्याज का हुआ था वितरण
गोरखपुर जिले को उत्तर प्रदेश राज्य औद्यानिक सहकारी विपणन संघ के स्तर से राशन की दुकानों पर प्याज बिना किसी लाभ उपलब्ध कराई जा रही है। इसके पूर्व हाफेड से 19 अक्तूबर को 25 टन प्याज जिले में बिक्री के लिए भेजा था। तब इसे जिलाधिकारी के साथ बैठक के बाद सुदूरवर्ती ग्रामीण क्षेत्र गोला एवं बांसगांव तहसील क्षेत्र के 448 कोटेदारों को वितरण के लिए दिया गया था। सरकार ने प्याज की खरीद नासिक से 35 रुपये प्रति किलोग्राम के दर पर की थी। प्रति किलोग्राम एक रुपये भाड़ा के मद में अतिरिक्त लेकर सस्ती दरों पर लोगों को उपलब्ध कराया था। लेकिन 25 टन प्याज ऊंट के मुंह में जीरा है। अब जाकर दूसरी 25 टन प्याज की खेप आ रही है। लेकिन इस बार प्याज की कीमत 65 रुपये प्रति किलोग्राम तय की गई है।

5 किलोग्राम प्याज ही मिलेगी
एक परिवार के एक व्यक्ति को सिर्फ 5 किलोग्राम प्याज ही मिलेगी। बिक्री से संबंधित एक रजिस्टर भी बनाया जाएगा, जिसमें खरीददार का नाम और मोबाइल नंबर और मात्रा दर्ज की जाएगी। ताकि प्याज का दुरुपयोग कोटेदार या खरीददार के स्तर पर न किया जा सके।

1 Comment

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *