सोमवार, नवम्बर 29

गोरखपुर के इन खास आठ चौराहो पर नहीं रोका जायेगा वाहनों को, गलती पर अपने आप कट जायेगा चालान

मेट्रो शहर की तर्ज पर यातायात व्यवस्था दुरुस्त करने के लिए गोरखपुर जिला प्रशासन ने कवायद शुरू कर दी है। महानगर के दो चौराहों पर आरएलवीडी (रेड लाइट वायलेशल डिटेक्शन) सिस्टम लगाया जा रहा है। अगर दो पहिया या चार पहिया वाहन से लाल बत्ती क्रास करते हैं या बिना हेलमेट गुजरते हैं तो आरएलवीडी ऐसे वाहनों को चिह्नित कर लेगा और ई-चालान भेज देगा। इसके लिए चयनित नौ चौराहों में से मोहद्दीपुर और विजय चौराहे पर यह व्यवस्था 15 जनवरी से शुरू हो जाएगी। सभी नौ चौराहों के लिए राज्य सरकार ने 12 करोड़ रुपये जारी किए हैं।

मोहद्दीपुर व विजय चौराहे पर लग रहा है आरएलवीडी सिस्टम जिलाधिकारी के. विजयेन्द्र पाण्डियन ने बताया कि आरएलवीडी सिस्टम लग जाने के बाद किसी ने लाल बत्ती पार की तो कैमरा वाहन की तस्वीर कैद कर लेगा और कंट्रोल रूम में बैठा कर्मचारी जूम करके वाहन नम्बर के आधार पर चालान घर भेज देगा। मोबाइल पर भी चालान कटने की सूचना भेजेगा। ऐसे ही बिना हेलमेट वाले दो पहिया चालकों का भी ई-चालान होगा। सभी चयनित नौ चौराहों पर आटोमेटिक सिग्नल तो लगेंगे ही हाई पॉवर सर्विलांस कैमरे भी लगाए जाएंगे। लोगों को असुविधा न हो इसके लिए स्टाप टाइमिंग कम रखा जाएगा ताकि लोग निकलते रहें।

यातायात व्यवस्था दुरुस्त करने की तैयारी: लोग यातायात नियमों का पालन करें इसके लिए यातायात नियम तोड़ने पर सख्त कार्रवाई होगी। जैसे किसी चौराहे पर किसी तरफ रेड सिग्नल दिया गया है और कोई बिना रुके उसे क्रास करने की कोशिश कर रहा है तो कंट्रोल रूम उस वाहन को कैप्चर कर लेगा और पंजीकरण नम्बर से तत्काल चालान उसके घर भेजेगा। साथ ही मोबाइल पर मैसेज देगा कि उनका चालान काटा गया है।

इन चौराहों पर आईटीएमएस लगेगा ‘ गोलघर चौराहा ‘ कचहरी चौराहा ‘ रुस्तमपुर चौराहा ‘ विजय चौराहा ‘ देवरिया बाईपास तिराहा ‘ पैडलेगंज चौराहा ‘ मोहद्दीपुर चौराहा ‘ कालीमंदिर तिराहा

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *