बुधवार, दिसम्बर 8

गोरखपुरवासियो के लिए खुला तीसरा अंडरपास, साथ साथ अब इस रोड से गुजरने के लिए पहचानपत्र अनिवार्य

पूवरेत्तर रेलवे महाप्रबंधक कार्यालय रोड अब आम रास्ता नहीं रहेगा। मंगलवार से इस मार्ग पर बाहरी वाहनों की आवाजाही नहीं हो सकेगी। महाप्रबंधक कार्यालय पर जाने वाले लोगों व कर्मचारियों को अपना पहचान पत्र दिखाना होगा। रेलवे जीएम कार्यालय मार्ग पर बाहरी वाहनों का प्रवेश रोकने के लिए दोनों गेट पर ऑटोमेटिक बैरीकेडिंग लगा दी गई है। अब इस मार्ग पर सिर्फ रेलवे के अधिकारी, कर्मचारी व रेलवे से जुड़े लोग ही प्रवेश कर सकेंगे। बाहरी लोगों को प्रवेश तभी मिलेगा जब वह मिलने वाले अधिकारी या कार्य का पूर्ण विवरण बताएंगे।

दरअसल, कौवाबाग अंडरपास शुरू होने से प्राइवेट वाहनों की आवाजाही जीएम कार्यालय मार्ग पर बढ़ जाएगी। ऐसे में रेलवे प्रशासन ने सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए इस मार्ग को आमजनता के लिए बंद करने का निर्णय लिया है। जीएम कार्यालय मार्ग के प्रवेश द्वार के साथ ही दूसरे छोर पर भी बैरीकेडिंग कर दी गई है। दोनों तरफ आरपीएफ के जवान 24 घंटे तैनात रहेंगे। रेलवे कर्मचारी और अधिकारी के अलावा अंदर प्रवेश करने वालों को पहचान पत्र के अलावा काम का भी विवरण देना होगा।

 

 

 

लंबे इंतजार के बाद सोमवार को कौवाबाग अंडरपास आमजनता के लिए खोल दिया गया। अंडरपास खुलने की जानकारी होते ही बड़ी संख्या में लोगों की आवाजाही शुरू हो गई। इसके खुल जाने से महानगर के उत्तरी छोर के हजारों नागरिकों को जाम से राहत मिले गई है। अंडरपास का निर्माण पिछले दो सालों से चल रहा था। इसे फरवरी के अंतिम सप्ताह में खोला जाना था लेकिन अंडरपास का कार्य तय समय से पहले ही पूरा हो जाने के कारण सोमवार को इसे आम जनता के लिए खोल दिया गया।

सोमवार की शाम 4.45 बजे जैसे ही अंडरपास खुला तो रेल अधिकारियों, कर्मचारियों व आम जनता के चेहरे खिल उठे। अभी तक लोगों के पास धर्मशाला व मोहद्दीपुर ओवरब्रिज के रास्ते ही आने-जाने का विकल्प था। इन दोनों जगहों पर ट्रैफिक ज्यादा होने के कारण जाम की समस्या बनी रहती है। कौवाबाग अंडरपास के शुरू होने से धर्मशाला व मोहद्दीपुर मार्ग पर लोड कम होगा और लोग आसानी से इस पार से उस पार जा सकेंगे।

 

 

 

महाप्रबंधक पूवरेत्तर रेलवे ने एक माह पूर्व अंडरपास का निरीक्षण कर इसे फरवरी में खोलने का निर्देश दिया था। इसके बाद अंडरपास के निर्माण में काफी तेजी आ गई थी। बहुप्रतिक्षित कौवाबाग अंडरपास को सोमवार की शाम आवागमन के लिए खोल दिया गया। इससे शहर के बड़े हिस्से में जाम से निजात मिलेगी। हालांकि अंडरपास का औपचारिक उद्घाटन नही हुआ है

 

 

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *