देश में कोरोना वायरस का कहर बरपा है और इसी बीच इस महामारी का फायदा चोर भी उठा रहे है। दरअसल पीपीई कीट का उपयोग स्वास्थय कर्मियों द्वारा या किसी भी मनुष्य द्वारा वायरस से बचने के लिए किया जाता है।  चोर इस कीट को पहन कर चोरी की घटनाओं को अंजाम दे रहे है और आसानी से पहचान छिपा रहे हैं। इसका उदाहरण अभी हाल ही में बिहार के मुजफ्फरपुर जिले के काजी मोहम्मदपुर थाना क्षेत्र में देखने को मिला

 

 

बताया जा रहा है चोर घर की बाउंड्री वॉल से होते हुए कैंपस में एंट्री कर गया था। उसने पीपीई किट पहनी हुई थी। चोर के हाथ में धारदार औजार भी देखा गया। पीड़ित ने कहा चोरों ने कैमरे में लगे ताले को थोड़ा और ढाई लाख रुपए की नगदी लगभग 35 लाख का सोना चुरा लिया।

 

यहां न्याय विभाग के एक कर्मचारी के भी घर से लाखो रुपए का सामान और गहने की चोरी हुई जो की सीसीटीवी में कैद हो गया परिजनों द्वारा निजी थाना में अज्ञात चोरों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करा दी गई है और पुलिस चोरों की तलाश में लगी हुई है। पुलिस के मुताबिक लगभग 37 लाख के समान और गहने की चोरी हुई है । चोरी के समय परिजन के घर पे कोई मौजूद नहीं था। कर्मचारी का नाम प्रकाश चंद्र बताया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.