महामारी के वजह से आर्थिक स्थिति पर काफी असर पड़ा और दूसरी तरफ कॉलेज स्कूल सभी बंद कर दिए गए थे अब लंबे समय के बाद स्कूल कॉलेज खुले तो नियमों में बदलाव किया गया , जी हां कोई भी अब तकनीकी शिक्षण संस्थान विद्यार्थियों से एक बार में पूरी फीस नहीं लेगा।  अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद यानी के एआईसीटीइ ने सभी तकनीकी संस्थानों को एकमुश्त फिस ना लने के निर्देश दिये,

 

 

कोरोना महामारी को ध्यान में रखते हुए अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद ने एआईसीटीइ ने सभी इंजीनियरिंग, मेडिकल मैनेजमेंट, और वाही तकनीकी शिक्षण संस्थान वार्षिक यानी पूरी शुल्क एक साथ लेने के जगह पर तीन से चार किस्तों में लें  उपर्युक्त के साथ दूसरी ओर कोई भी कॉलेज से एकमुश्त फीस के भुगतान के लिए अभिभावकों को पर दबाव नहीं डालेगा। एआईसीटीइ ने साथ में यह भी निर्देश दिए के, कॉलेज कोरोना के दौरान शिक्षकों की सेवाओं को समाप्त नहीं कर सकता है और पूर्व शिक्षकों का वेतन समय पर देना होगा, किसी शिक्षक की सेवा समाप्त नहीं की गई है।

 

महामारी के कारण आर्थिक हालात पर भारी असर पड़ा –
आदेश में कहा चूकि महामारी के कारण आर्थिक हालात पर भारी असर पड़ा जिसके चलते अभिभावकों पर प्रेशर डालना सही नहीं है,सभी कॉलेजों के प्रबंधन से अपनी वेबसाइट पर यह जानकारी अपलोड करने के लिए कहा जिससे सभी स्टूडेंट तथा उनके अभिभावकों तक यह सूचना मिल सके और सभी विद्यार्थियों और अभिभावकों के मोबाइल तथा ईमेल पर भी इसकी सूचना भेजी जाएगी ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *